/लेबर पेन से राहत दिलाएंगी ये सरल अवस्थाएं

लेबर पेन से राहत दिलाएंगी ये सरल अवस्थाएं

जितना सुखद माँ बनने का एहसास हैं शिशु को जन्म देना उतना ही तकलीफ दायक होता है। यह एक स्त्री की लाइफ का सबसे कठिन दौर होता है। जब स्त्री का खुद भी नया जन्म होता है। आज हम आपको कुछ पोज़िशन बताने जा रहे है जिनसे आपको बच्चे को जन्म देने में आसानी हो और दर्द भी कम हो। हलाकि बच्चे को जन्म देने के समय जो दर्द होता हैं उसे माँ बनने की ख़ुशी और अपने बच्चे को देखने की इच्छा ही कम कर देती हैं | फिर भी हमारे ये टिप्स आपके लिए मददगार हो सकते हैं |

1. बैठना

लेबर के फर्स्ट स्टेज में, बैठने से न सिर्फ डिलीवरी की गति बढ़ने में मदद मिलती है बल्कि पीठ दर्द से भी आराम मिलता है। बैठकर लेबर पेन से राहत मिल सकती हैं |

2. आधा-बैठना

कुछ स्त्रियां इस अवस्था का फायदा उठाती हैं। महिला को शिशु को जन्म देने के लिए बीच बीच में वह बैठने और आधा बैठने के बीच संतुलन बना सकने में मदद मिलती है। ऐसा करने से थोडा राहत महसूस होती हैं |

3. गेंद का इस्तेमाल (बर्थ बॉल)

यह  विशेष प्रकार की गेंद होती है जिसमें हवा भरी जाती है। इस बॉल मेंऊपर की और महिला को बिठाकर आराम दिया जा सकता है बल्कि रिपोर्ट के मुताबिक इस गेंद से तनाव में कमी आती है। इस गेंद पर बैठ कर आगे-पीछे हिलने से महिला के जन्म के समय संकुचन में होने वाले दर्द से भी राहत दिलाया जा सकता है।

4. खड़े होना

इस अवस्था में स्त्री धरती की ओऱ अपना बल टिकाती है। बच्चे को बाहर आने में आसानी होती है। और दर्द में थोडा राहत मिलती हैं |

5. पीठ के बल लेटना

शरीर अपनी प्राकृतिक अवस्था मे होने की वजह से कभी कभी पीठ के बल लेटने पर शिशु को बाहर लाने में मददगार होता है पर इस अवस्था में लेटने से आपके गर्भाशय तक खून का प्रवाह कम या धीमा हो सकता है।

6. एक ओर होकर लेटना

किसी भी एक तरफ करवट लेकर सोने से भी आराम मिल सकता है। हालाकिं ऐसी अवस्था में एक साइड में आराम नही मिलता हैं इसलिए करवट लेते रहने से राहत मिलती हैं | नोट :- किसी भी प्रकार का प्रयोग डॉक्टर की सलाह के बिना न करें | कोई भी प्रयोग डॉक्टर की देखरेख में हि किया जाना चहिये |